Connect with us

Technology

Python क्या है ? Python का उपयोग क्यों किया जाता है ?

Python

दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में Python Language के बारे में ही सारी जानकारी आप को देने जा रहे है।

Computer  और  Mobile Phone पर रन होने वाले जितने भी एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर होते है वह किसी न किसी Programming Language के द्वारा बनाये गए होते है। आज के समय में आप को बहुत सारी Programming Language देखने को मिल जायेंगे , जैसे  C , C ++ , Java आदि।

यह सभी Computers Languages होते है जो मनुष्य द्वारा लिखे और समझे जाते है। हर Language के अलग अलग Futures होते है जो इन्हे एक दूसरे से अलग बनाते है , जैसे जैसे तकनिकी दुनिया में बदलाव होते जा रहे है वैसे वैसे इन Programming Languages में भी कई बदलाव देखने को मिल रहे है।  जो यूजर को बेहतरीन Futures प्रदान करते है। ऐसे ही एक Language है  Python , जिसे Programming Community Index द्वारा दुनिया के 10 लोकप्रिय  Programming Language में सबसे ऊपर के स्थान पर दर्जा दिया गया है। आप इसी से अंदाजा लगा सकते है की यह Language  कितनी बेहतरीन है।

 

Python क्या है ?

Python एक Open Source High Level Interrupted और General Prepare Programming Language  है जिसका इस्तेमाल करना बेहद आसान होता है साथ ही यह बहुत ही शक्तिशाली  Language भी मानी जाती है। पाइथन एक बेहतरी  Programming Language है , जिसकी मदद से बहुत तेजी से एप्लीकेशन को बनाया जा सकता है।

Python का इस्तेमाल Desktop ,  Java application , Desing Website , और Web Application बनाने के लिए किया जाता है , पाइथन Language  C , C ++ की तरह ही एक Programming भाषा है लेकिन यह बाकी के मुकाबले बहोत ही आसान Language है जिसका Sintex यूनिक  है।  जो इस भाषा को यूजर के लिए पढ़ने योग्य बनाता है। अलग अलग Developers  पाइथन Language के Code को पढ़कर Translate भी कर सकते है। जो दूसरी भाषा के मुकाबले बहुत आसान होता है।

 

Python क्या है

Python में  Dynamic Text System और Automatic Memory Management की सुविधा उपलब्ध रहती है। इसी वजह से Program के Maintenance के Develop का खर्च भी बहुत कम होता है और पाइथन Language पर काम कर रही टीम को एक दूसरे के सहयोग के साथ काम करने का मौका भी मिलता है। शक्तिशाली Language होने की वजह से पाइथन का इस्तेमाल बहुत सी बड़ी कंपनी के द्वारा किया जा रहा है जैसे — YouTube  , Quora , Instagram   , Google  , Pinterest  आदि।

Python Language  Module और Packages के उपयोग का Support करता है। इसका मतलब है की इस Language में जो Program लिखे जाते है वह Modular Style में लिखे जाते है। जो अलग अलग प्रकार के महत्वपूर्ण Task प्रोफार्म करने के लिए  बनाये गए होते है। इन Modules का उपयोग दूसरे Project के काम में भी किया जा सकता है। और इन्हे Import या Export करना बहोत आसान होता है।

 

 

Python के Version कौन – कौन से है ?

  • Python 1.0
  • Python 2.0
  • Python 3.0
  • Python 3.6.1

 

Python का इतिहास क्या है ?

Python का अविष्कार Netherlands  में Guido Van Rossum  द्वारा किया गया। python की शुरुआत 1980 में हुई और करीब 10 साल बाद 1991 में पाइथन को लोच किया गया।  जनवरी 1994 में Python का पहला Version Python 1.0 निकाला गया था। इसका दूसरा Version Python 2.0 Oct 2000 में जारी किया गया। इसका तीसरा Version Python 3.0 एक लम्बी अवधि के बाद Dec 2008 में जारी किया गया ,  Python का नया Version Python 3.6.1 मार्च 2017 में लॉन्च किया गया है।

इस भाषा को इस तरह बनाया गया है की इसमें लिखे गए कोड आसानी से पढ़ और समझे जा सकते है। इसकी खासियत यह भी है की इसे सीखने के लिए हमें कोई पैसे देने नहीं पड़ते  और इसके लिए किसी भी लाइसेंस की जरुरत नहीं पड़ती , यह जनरल पब्लिक लाइसेंस में उपलब्ध एक फ्री Software लाइसेंस है जो की यूजर को Software चलाने और पड़ने की सुविधा देता है। दोस्तों अब आप सोच  रहे होंगे की फिर इस Programming Language का नाम Python क्यों रखा गया , जबकि यह एक साप की प्रजाति का नाम है।

 

यह भी पढ़े — Android क्या है ?

IOS क्या है ?

Python नाम कैसे पड़ा ? 

दरसल Python की  नाम की उत्त्पति एक Comedy show  के नाम हुई थी जो 1970 की दसक में BBC Comedy Series द्वारा  Monty Pythor’s Flying Circus के नाम से एक Script प्रकाशित हुई थी इससे प्रभावित होकर  Guido Van Rossum ने अपनी भाषा का नाम पाइथन रख दिया।  फ़िलहाल पाइथन Language को इस वक्त Code Development टीम द्वारा मेंटेन किया जाता है। जो Python Programming Language में हमेशा नए नए Update और Futures जोड़ते रहते है।

 

 

Python का उपयोग क्यों किया जाता है ?

Python एक Object Oriented Programming Language है जिसका उपयोग हम Software का निर्माण करने के लिए  करते है . यह एक Interpreter Language भी है जिसका मतलब है इसमें लिखे गए Program के Code को Run करने के लिए Computer readmar format  में बदल कर Compile करना नहीं पड़ता है। जबकि दूसरे Programming Languages में Code run करने से पहले Source Code का Object Code Conversion करना होता है। Interpreter की मदद से पाइथन Code को लगभग सही से कंप्यूटर पर आसानी से रन किया जा सकता है। पाइथन एक प्लेटफॉर्म Independend Language है जो , Window , Mac , Linux जैसे अलग अलग प्लेटफॉर्म पर कार्य करती है। आज के समय में सबसे ज्यादा प्रोग्रामर द्वारा इस्तेमाल होने वाली भाषा पाइथन है।

 

 

Python का उपयोग कहा – कहा किया जाता है ?


System Software

Web Application

Game Development

App Development

Websites Creation

Computer Graphics

Server Side Programs

आदि बनाने में किया जाता है।


आप को यह जानकर हैरानी होगी की Python का इस्तेमाल NASA में भी किया जाता है। जहाँ Equipment और Space Machine बनाने के लिए पाइथन Programming Language का उपयोग किया जाता है। इस Language का उपयोग Artificial Intelligence और Deta Science में भी किया जाता है। पाइथन की Standard Library  बहोत सारे Internet Protocol को Support करती है जैसे —  HTML , < XML > , IMAP , FTP आदि।

 

 

Python के Futures क्या – क्या है ?

 

Python एक High Level Programming Language  है जिसे Code read करना  और Maintain करना बेहद आसान होता है। इसका source code सभी के लिए फ्री में उपलब्ध होता है और इसके कोड को reuse या             Modification करने के लिए सभी यूजर के लिए हमेशा Open रखा जाता है। ताकि Users इसे स्वतंत्र रूप से  डाउनलोड और उपयोग कर सके। यह ही एक वजह है की पाइथन Language को Open Source Programming Language कहा जाता है। पाइथन के बहुत से ऐसे यूनिक Futures है जो को इसे दूसरे Languages से बहोत अलग  बनांते है।  जैसे की —

1. Simple —   Python भाषा बहुत ही सरल भाषा है। इसका उपयोग करना आसान है इसीलिए इसे कंप्यूटर की भाषाओ में सबसे आसान भाषा माना जाता है। पाइथन एक ऐसी भाषा है जिसे पढ़ना  और समझना बहुत आसान है जिन लोगो को पहले से Languages के बारे में कोई ज्ञान नहीं है वह भी इस भाषा को पढ़कर आसानी से प्रोग्रामर बना सकते है।

2. Interpreted ––  जिस तरह हमें बाकि Programming Languages जैसे C , C ++ और JAVA को run करने से पहले compile करना जरुरी होता है , Python उस तरह compile नहीं किया जाता है , पाइथन Code run टाइम पर ही interpreter द्वारा process किया जाता है , पाइथन एक ही समय में program के code को line by line execute करता है इसीलिए इस भाषा को Script Language भी कहा जाता है , हालांकि interpreted होने की वजह से पाइथन दूसरे Languages से थोड़ी slow है।

3. Platform Independent —  Python Open Source होने के कारण कई platform पर उपलब्ध है जैसे — Linux , Window , और Mac OS , पाइथन का कोड आसानी से किसी भी platform पर चलता है इसीलिए अगर आप पाइथन का code किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम पर लिखते है तो आप उस Program को दूसरे Operating System  में भी बिना किसी समस्या के रन कर सकते है , अलग अलग platform के लिए अलग अलग code लिखने की आवश्कता नहीं होती है।

4. Extensible Language —  Python पूरी तरह से Extensible Language है अर्थात इसके source code में अन्य programming Language के code डाले जा सकते है , यदि आप चाहते है की किसी Program का एक भाग तेजी से Execute हो तो आप उस भाग को दूसरे भाषा C में लिख सकते है। पाइथन को दूसरे भाषा C और C ++ के साथ आसानी से Integrate किया जा सकता है।

5. Large Standard Library —  Python में बहुत बड़ा Standard Library मौजूद है। यह Library अनेको तरह के कार्यो के लिए उपयुक्त है। यह हमें Rapid Application Development के लिए Module और Packages का समृद्ध Set प्रदान करता है जिसके कारण हमे हर Task के लिए अलग से Code लिखना  नहीं पड़ता है। इसमें Graphical User Interface बनाने के लिए Module है। Web Frameworks बनाने के लिए Module है ,Database से data आदान प्रदान करने के लिए Module है इसी तरह बहुत से Task Perform करने के लिए Library में Modules उपलब्ध है।

 

निष्कर्ष

तो दोस्तों आशा है की इस आर्टिकल के माध्यम से आप को Python क्या है इसका उपयोग  कैसे किया जाता है और क्यों किया जाता है और इसे Futures से जुडी सारी जानकारी आप को मिल गयी होगी। मेरी हमेशा से यह कोशिश रहती है की हमारी आर्टिकल के जरिये आप को दी गयी विषय पर पूर्ण जानकारी प्राप्त हो सके ताकि आप को कही और जाना न पड़े। मुझे उम्मीद है की इस आर्टिकल में दी गयी जानकारी आप के लिए बहुत उपयोगी होगी। इस आर्टिकल से जुडी कोई भी परेशानी हो तो आप हमें नीचे Comment में बता सकते है ताकि हम आप की परेशानी को जल्द से जल्द दूर कर सके।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Technology

Java Language क्या है ? इसका Features क्या है 2020

Java language

अगर आप एक कंप्यूटर के स्टूडेंट है या रह चुके है तो आप लोग Java का नाम यकीनन सुना होगा। अगर आप ने नहीं सुना तो हम है ना , आज आप को Java Language के बारे में पूरी जानकरी देने वाले है इसीलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े।

इस स्मार्टफोन और इंटरनेट के दौर में हमारे दिन की शुरुआत बिना मोबाइल के नहीं होती है हम जब भी सुबह सो कर उठते है तो हम सबसे पहले अपने मोबाइल फ़ोन को देख कर ही  उठते है यह हमारी जिंदगी का हिस्सा बन गया है और हो भी क्यों न हम अपना सारा काम अब इसी मोबाइल फ़ोन से ही तो करते है।

पहले सामान खरीदने के लिए हमें बाजार जाना होता था पैसे भेजने के लिए या जमा कराने के लिए बैंको में सुबह से लाइन में लगना पड़ता था लेकिन अब वह सारे काम हम घर पर बैठे मोबाइल से ही कर सकते है लेकिन क्या आप ने कभी यह सोचा है की यह सारी सुविधा हमें मोबाइल से कैसे प्राप्त होती है , दोस्तों यह संभव हो पाया है Java language की वजह से ,

 

 

Java Language क्या होता है ?

Java एक Object Oriental Programming Language है जिसे High Level Language भी कहा जाता है , क्योकि इसे मानव द्वारा आसानी से पढ़ा और लिखा जा सकता है। Java Language एक Multiple Platform और Distributed Programming Language है जिसका उपयोग Consol Application ,  Web Application , Mobile Application Development , Game Development , या Pc या Android System को बनाये के लिए किया जाता है।

इसके अलावा इस Language का इस्तेमाल लगभग सभी devices के लिए सॉफ्टवेयर या App Develop करने के लिए होता है। Java Language दूसरे Programming Language जैसे Python Language की तुलना में सरल , बेहतर , तेज और सुरक्षित Programming Language है जिसका उपयोग वर्तमान समय में केवल Computer में ही नहीं बल्कि Mobile Phones , Tablets , Electronic Devices जैसे — T.V. , Washing Machine आदि में भी किया जाता है।

 

java language

 

आजकल Online Banking , Online Shopping , Online Forms यह सभी Java Language की मदद से ही संभव हुआ है वर्तमान में लगभग सभी Mobile कम्पनिया Java का Support  करते है। Google ने  Java Language को Linux के साथ जोड़ते हुए Mobile Devices के लिए Android का नाम एक Open Source Operating System Develop किया गया है जो की आज के समय में काफी मशहूर हो चूका है और लगभग सभी बड़ी कम्पनिया Android Platform के लिए Mobile Devices , Tablets , Smart Watch आदि Develop करते है .

Java Language , Web Application जैसे website या Blog बनाने की सुविधा प्रदान करती है और साथ ही मोबाइल के लिए Apps भी बनाने में मदद करती है। आज के समय में जितने भी Web Pages है वह Java Script पर चलते है  Android Devices के लिए बहुत सारे ऐसे Application बनाये गए है जो की Java  में लिखा गया होता है। यह Application Android के Software Development Kit यानि ( SDK ) का उपयोग करके बनाया गया है।

 

Java का इतिहास

Java Language एक Computer base Programming Language है जिसे James Gosling और उनके साथी Sun microsystems ने सन 1991 में विकसित किया था। James Gosling  को Java का प्रमुख Developer माना जाता है इस Language के बनाने के पीछे उनका एक ही सिद्धांत था. ” Write Once Run Anywhere “ जिसका मतलब था Language को एक ही बार लिखा जाये और इसका  उपयोग हर जगह किया जायेगा।

James Gosling और उनके टीम द्वारा विकसित किये गए इस Programming Language  का नाम उन्होंने Oak रखा था जिसके बाद सन 1995 में इसका नाम बदल कर Java रखा दिया गया। Java के टीम के सदस्यों को ” Green Team “ भी कहा जाता है। इन्होने एक Language को Develop करने के लिए Project शुरू किया था जो की Digital Devices के लिए Application Develop करने में मदद करता है। मुख्यतः Java को Consumer Electronic Devices जैसे की T.V. , Set box , बनाने के लिए Develop किया गया था लेकिन ये इंटरनेट Programming के लिए best Programming Language बन गया।

 James Gosling ने इस Program का नाम सबसे पहले ” Greentalk “  रखा था जिसके बाद इसे बदल कर  Oak रखा गया ये नाम पहले से ही Oak Technologies के द्वारा Registered था इस  लिए इसे फिर से बदल कर Java रखा गया। Java का सबसे महत्वपूर्ण और लोकप्रिय Feature है की Java Language Platform Independent होता है इसका मतलब है की Java Program Language किसी विशेष Hardware या Operating System के लिए नहीं बनाया गया है। इस लिए Java पर बनाये गए Program किसी भी सिस्टम पर रन किये जा सकते है।

Java का यह यूनिक Feature आज भी Java को सबसे Popular Language बनाता  है। Java का पहला Version ( JDK 1.0 ) 23 जनवरी 1996 में Release किया गया था उसके बाद कई सारे Version Develop और release किये गए। वर्तमान में Java का Latest version है Java SE 8 जिसे 18  मार्च 2014  में release किया गया था। यह एक Object Oriented Language है जो C और C++ Language पर आधारित है लेकिन Java को और भी Simply और  improve किया गया है जिस से  Programming feature के errors को दूर किया जा सके।

 

java language

Java Source code की फाइल जिनका extension .Java होता है उनको Compiler की मदद से bit code format में generate किया जाता है और फिर Java interpreter उसको execute करता है compliant java code सभी Computer पर Java Virtual machineयानि JVM की मदद से रन होता है। JVM एक Virtual Machine  है जो की रन टाइम environment उपलब्ध कराता  है जहा पर Java program को रन किया जाता है। जितने भी Computers Java Program को रन करते है उन सभी में पहले से ही JVM Installed रहता है इसीलिए Java का source code सभी Platform के Computers पर चलता है।

Types Of Java .

Java वास्तव में एक बहुत ही बड़ी programming Language है। इस लिए  Sun microsystems ने इसे कई हिस्सों में विभाजित कर दिया है ताकि जो Programmers जिस category से जुड़े Software develop करना चाहते है उन्हें केवल उन्ही category से सम्बंधित Java के बारे में जानने की जरुरत पड़े।

Java को मूल रूप से तीन हिस्सों में बाटा गया है।

  1. Java Micro Edition ( J2ME )
  2. Java Standard Edition ( J2SE )
  3. Java Enterprise Edition ( J2EE )

 

Java के Features क्या क्या है ?

1. Object-Oriented – Java एक शुद्ध Object Oriented Programming Language ( OOps) है अर्थात इसमें Procedures का प्रयोग नहीं किया जाता है बल्कि यह सिर्फ Objects पर आधारित Language है , Java OOPs के Concept को Follow करता है जो Software development और Maintenance के काम को सरल बनाती है।

2. Platform Independent – java Platform Independent Language है अर्थात यह हर किसी Platform में रन हो सकती है जैसे Android , Windows , Linux , और Mac . Java में लिखे गए Programs किसी भी operating system में रन किये जा सकते है जैसे अगर आपने Java का program Window OS में लिखा है तो उसे हम Linux Os में भी आसानी से रन कर सकते है।

3. Secure – Java का एक और बड़ा Feature यह है की यह एक सुरक्षित Language है। Java सबसे अधिक सुरक्षित है क्योकि Java प्रोग्राम Java run time Environment में run होता है। Machine Code Generate करने से पहले प्रोग्राम को JVM पर कुछ Tests रन करके Error को Detect करती है। Java Language Virus फ्री होती है जिससे Programs सुरक्षित रहते है।

4. Simple Language – Java एक आसान Language है क्योकि इसमें C ++ की तरह ही Syntax होते है जो की आसानी से सीखे जा सकते है , लेकिन C ++ की तरह इसमें Operator Overloading और Header Files का प्रयोग नहीं किया जाता है जिससे इसे सीखना और भी आसान हो जाता है।

 

Java language

5. Portable – Java Language एक Portable Language है क्योकि Java का Source code को Compiler की मदद से Byte code में परिवर्तित किया जाता है। ये Byte code हर किसी system में रन हो जाता है इसीलिए इसे आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।

6. Robust – Robust का मतलब होता है मजबूत , Java में बनाया हुआ कोई भी Program अलग अलग Environment में बिना Crash नहीं होते है। Java में जो भी Errors आती है उन्हें आसानी से ढूंढ कर Solve किया जा सकता है। इन्ही सभी कारणों से Java एक Robust Language है।

7. Distributed – Java एक Distributed Language है जिसका मतलब है की Java प्रोग्राम इंटरनेट में रन करने के लिए बनाये जाते है। java से हम distributed Application बना सकते है ये वो Application होते है जो अलग अलग Network पर Distribute होकर रहते है लेकिन एक साथ मिलकर Task परफॉर्म करते है। Java Language में http और ftp Protocol का प्रयोग किया जाता है जिससे की आसानी से Internet में डाटा को Access किया जाता है।

8. Multi Threaded – Java Language एक Multi Threaded Language है जिसका मतलब है की Java Language में बड़े बड़े प्रोग्राम को छोटे Sub Program में Divide किया  जाता है और इन्ही sub Programs को क्रमानुसार Execute किया जाता है। इसी तरह Java एक साथ कई Task पूरा कर सकता है। ये Feature Java को Fast और Interactive बनाता है , इस Feature का इस्तेमाल Multi Media और Web Application में किया जाता है।

 

निष्कर्ष

तो दोस्तों आशा है की इस आर्टिकल के माध्यम से आप को Java Language क्या है इसका उपयोग  कैसे किया जाता है और क्यों किया जाता है और इसे Futures से जुडी सारी जानकारी आप को मिल गयी होगी। मेरी हमेशा से यह कोशिश रहती है की हमारी आर्टिकल के जरिये आप को दी गयी विषय पर पूर्ण जानकारी प्राप्त हो सके ताकि आप को कही और जाना न पड़े। मुझे उम्मीद है की इस आर्टिकल में दी गयी जानकारी आप के लिए बहुत उपयोगी होगी। इस आर्टिकल से जुडी कोई भी परेशानी हो तो आप हमें नीचे Comment में बता सकते है ताकि हम आप की परेशानी को जल्द से जल्द दूर कर सके।

Continue Reading

Trending